IP Camera क्या होता है आईपी कैमरा कैसे काम करता है?

IP Camera क्या होता है? आईपी कैमरा कैसे काम करता है? दुनिया भर में बढ़ते हुए अपराधिक मामले एवं क्राइम को देखते हुए आजकल सीसीटीवी कैमरे लगवाना बहुत ही जरूरी है। सीसीटीवी से आप अपनी प्रॉपर्टी, ऑफिस एवं गोदामों की सुरक्षा के अलावा अपने घर या मकान की भी चोरों एवं डकैतों से सुरक्षा कर सकते हैं।

IP Camera क्या होता है आईपी कैमरा कैसे काम करता है

लेकिन बात आती है कि हमें कौन से सीसीटीवी कैमरे लगवाना चाहिए। डिजिटल कैमरा आईपी कैमरा तो इस कंफ्यूजन को दूर करने के लिए हम इस आर्टिकल में सीसीटीवी से संबंधित सभी जानकारी देने वाले हैं। आप इस आर्टिकल में अंत तक बने रहिए।

यदि आप अधिक जूमिंग एवं अच्छी पिक्चर क्वालिटी की 4K वीडियो चाहते हैं तो आपको आईपी कैमरा लगवाना चाहिए। सवाल यह आता है कि आई पी कैमरा क्या होता है आईपी कैमरा कैसे काम करता है। आईपी कैमरा की फुल फॉर्म क्या होती है। आईपी कैमरा इंस्टॉलेशन कैसे करें? तो इन सभी सवालों के जवाब इस आर्टिकल के माध्यम से आपको मिल जाएंगे।

आईपी कैमरा क्या होता है? आईपी कैमरा कैसे काम करता है?

IP कैमरा का अर्थ इंटरनेट प्रोटोकोल आधारित कैमरा होता है। यह कैमरा इंटरनेट प्रोटोकोल पर काम करता है। इसलिए इसको आईपी कैमरा कहते हैं। आईपी कैमरा नेटवर्क बायर पर काम करता है इसलिए इस कैमरा को नेटवर्क कैमरा भी कहा जाता है।

आईपी कैमरा वीडियो सिग्नल को डिजिटल सिग्नल में परिवर्तित करके विडिओ डाटा को नेटवर्क बायर के द्वारा नेटवर्क वीडियो रिकॉर्डर तक पहुंचाता है। आईपी कैमरा को आप बिना नेटवर्क वीडियो रिकॉर्डर के भी चला सकते हैं।  नेटवर्क आईपी कैमरा को आप सीधे नेटवर्क स्विच या राउटर से सीधे कनेक्ट कर सकते हैं।

आईपी कैमरा के आईपी एड्रेस के द्वारा आप दुनिया के किसी भी कोने से  रिमोट एक्सेस के द्वारा लाइव फुटेज ऑनलाइन देख सकते हैं।  आईपी कैमरा को आप सीधे कंप्यूटर से भी जुड़ सकते हैं इसके लिए आप आईपी कैमरा को नेटवर्क  स्विच में जोड़ दें और फिर आईपी कैमरा के ip-address द्वारा अपने कंप्यूटर पर इंटरनेट एक्सप्लोरर या क्रोम ब्राउजर से एक्सेस कर सकते हैं।

IP Camera Full Form in Hindi | IP Camera की Full Form क्या होती है?

आईपी कैमरा की फुल फॉर्म internet protocol camera होता है। इसे दूसरी भाषा में नेटवर्क कैमरा भी कहा जाता है क्योंकि यह Internet Protocol एवं नेटवर्क बायर पर काम करता है।

IP Camera Installation In Hindi | IP Camera क्या होता है?

आईपी कैमरा इंस्टॉलेशन करने के लिए निम्नलिखित चीजों की आवश्यकता होती है।

  • आईपी कैमरा (IP Camera)
  • नेटवर्क वीडियो रिकॉर्डर (NVR)
  • कैट सिक्स नेटवर्क बायर (Cat-6)

सबसे पहले कैट-6  नेटवर्क बायर को दीवार पर बायर क्लिप की सहायता से सेट करें। उसके बाद आई पी  कैमरा को दीवार या सीलिंग में लगाने के लिए ड्रिल मशीन की सहायता से छेद करें। फिर आप स्क्रुड्राइवर की सहायता से आई पी  कैमरे को दीवार पर सेट करें।

अब आप कैट-6  नेटवर्क बायर के 1 सिरे पर क्रिंपिंग टूल की सहायता से RJ45 कनेक्टर बनाएं।  इसी  प्रकार आप  नेटवर्क बायर के दूसरे छोर पर RJ 45 कनेक्टर बनाएं। अब आप RJ 45 कनेक्टर को आईपी कैमरे के  नेटवर्क पोर्ट पर लगाएं और दूसरे कनेक्टर को नेटवर्क Poe स्विच या राउटर से कनेक्ट करें।

अब आप Poe स्विच को नेटवर्क पैच केवल की सहायता से नेटवर्क वीडियो रिकॉर्डर से कनेक्ट करें। अब आप लाइव सीसीटीवी फुटेज एलईडी टीवी या मॉनिटर पर देखने के लिए एनबीआर को एचडीएमआई केबल की सहायता से टीवी से कनेक्ट करें।

Difference between IP Camera and HD Camera in Hindi

HD Camera

डिजिटल कैमरा एनालॉग कैमरा का एडवांस वर्जन है जो फुल एचडी  वीडियो 720 पिक्सेल से लेकर 1920  पिक्सेल तक सपोर्ट करता है।  डिजिटल कैमरा को डीवीआर यानी डिजिटल वीडियो रिकॉर्डर में लगाया जाता है। डिजिटल कैमरा को कनेक्ट करने के लिए 3 प्लस 1 सीसीटीवी बायर का यूज़ होता है।

सिंगल डिजिटल कैमरा रिमोट एक्सेस के द्वारा को एक्सेस नहीं किया जा सकता। बल्कि पूरे डिजिटल वीडियो रिकॉर्डर को एक्सेस किया जाता है। डिजिटल कैमरा ₹600 से लेकर 2000 तक आसानी से मिल जाते हैं। डिजिटल कैमरा 2 मेगापिक्सल से लेकर 8 मेगापिक्सल तक ही मार्केट में मिलते हैं।

IP Camera

आईपी कैमरा को नेटवर्क वीडियो रिकॉर्डर में जोड़ा जाता है। आईपी कैमरा इंटरनेट प्रोटोकोल पर आधारित कैमरा होता है। आईपी कैमरे को आईपी एड्रेस की सहायता से दुनिया के किसी भी कोने से रिमोट एक्सेस के द्वारा ऑनलाइन एक्सेस किया जा सकता है। प्रत्येक आईपी कैमरे का अलग-अलग आईपी एड्रेस होता है। आईपी कैमरों मैं फुल एचडी वीडियो से लेकर 4K वीडियो तक सपोर्ट करता है।

आईपी कैमरा में आप वीडियो को कई गुना झूम कर सकते हैं जबकि डिजिटल कैमरा में ऐसा नहीं होता। आईपी कैमरा डिजिटल कैमरा की अपेक्षा महंगे होते हैं। आईपी कैमरा 2 मेगापिक्सल से लेकर 12 मेगापिक्सल तक मार्केट में मिलते हैं  इन कैमरों की कीमत ₹2000 से लेकर ₹5000 तक होती है तथा वायरलेस आईपी पीटीजेड कैमरा की कीमत ₹10000 तक या इससे अधिक भी हो सकती है।

लोगों द्वारा पूछे जाने वाले कुछ सवालों के जवाब

Q- पो कैमरा और आईपी कैमरा में क्या अंतर है?

Poe कैमरा एवं आईपी कैमरा में कोई अंतर नहीं होता है। आईपी कैमरा को पावर देने के लिए Poe स्विच में लगाया जाता है  इसलिए इसको Poe कैमरा कहते हैं। जबकि आजकल मार्केट में हाइब्रिड एनवीआर आ  चुकी है। जिसमें नेटवर्क वीडियो रिकॉर्डर एवं Poe स्विच का कॉमिनेशन होता है।  हाइब्रिड नेटवर्क वीडियो रिकॉर्डर में आप आईपी कैमरा को डायरेक्ट कनेक्ट कर सकते हैं।

1Shares
error: Content is protected !!
Ads Blocker Image Powered by Code Help Pro

Ads Blocker Detected!!!

We have detected that you are using extensions to block ads. Please support us by disabling these ads blocker.

Powered By
Best Wordpress Adblock Detecting Plugin | CHP Adblock