Weak Link | The Weak Link क्या है?

आपने Weak Link  के बारे में तो तो सुना ही होगा जो  नेटवर्किंग में एक सामान्य बात है यदि आप Weak Link के बारे  जनना चाहते है तो आप इस आर्टिकल को जरूर पढ़े। इसमें हम बताएगे कि Weak Link क्या है? और हम Weak Link की समस्या को कैसे Troubleshoot कर सकते है। 

इसे  भी पढ़े – Fiber Distributed Data Interface कैसे काम करता है  जाने पूरी जानकारी। 

Weak Link | The Weak Link क्या है? 

Networking सिस्टम में Weak Link एक आम  बात है। नेवर्किंग सिस्टम में वीक लिंक के कारण पूरा सिस्टम फेल  हो जाता है स्टेशन केबल केबल सिस्टम की सबसे कमजोर कड़ी है जो दिवार के RJ45 जैक पैनल से आपके डेस्कटॉप तक जाती है।

इसलिए नेटवर्किंग में एक A-ग्रेड  अथवा हाई क्वालिटी वायर और कनेक्टर्स ही यूज़ करने चाहिए। जिससे हम उस पर भरोसा  कर सके। वायरिंग सिस्टम में UTP और फाइबर ऑप्टिक वायर को लिंक वायरिंग और सिस्टम से वाल नेटवर्क पॉइंट को कनेक्ट करने में उपयोग किया जाता है।

वाल नेटवर्क प्लेट एक भरोसेमंद नेटवर्क और सिक्योरिटी को दर्शाती है खास कर जब coaxial वायर का यूज़ एक पतली ईथरनेट वायर के साथ सिस्टम से सिस्टम को कनेक्ट करने में किया जाता है। 

weak link network

जबकि इलेक्ट्रिक नॉइज़ ,उच्च प्रतिरोध और क्रॉसटॉक  हमेशा सस्ती और low क्वालिटी वायर  और कनेक्टर्स ही उत्पन्न करते है। हमेशा तीन चीजों से ही प्रॉब्लम पैदा  होती है।  

उनमे सबसे पहले नंबर पर कनेक्टर है और दूसरे नंबर पर वायर और तीसरे नंबर पर पैच केबल जो वाल जैक पैनल से सिस्टम तक जाती है।

इसलिए हमेशा Weak Link से बचने के लिए उच्च क्वालिटी के नेटवर्क कनेक्टर  जैसे – (RJ45)  अथवा फाइबर ऑप्टिक  वायर जैक और उच्च क्वालिटी वायर का  ही उपयोग करना चाहिए।   

weak link kya hai

Weakest link kya hai ? Weak Link Troubleshooting in Hindi


वीक लिंक की समस्या को हल करने के लिए कुछ महत्वपूर्ण निम्नलिखित बातों का ध्यान रखना चाहिए।

  • उच्च क्वालिटी का वायर ही यूज़ करे। जैसे UTP (Cat -6) अथवा फाइबर ऑप्टिक। 
  • A – ग्रेड अथवा 1st क्वालिटी का वाल जैक पैनल और कनेक्टर (RJ 45) यूज़ करे। 
  • सिस्टम को जैक पैनल से कनेक्ट करने के लिए उच्च क्वालिटी का पैच केबल यूज़ करे। 
  • सिस्टम या कंप्यूटर को नेटवर्क सेटअप करने से पहले डेस्क का उपयोग करे 
  • मॉडुलर कनेक्टर्स मजबूत होने चाहिए ,यह मायने नहीं रखता कि आप कौन सा वायर यूज़ कर रहे है जैसे – UTP, STP अथवा Coaxial वायर आदि। 
  • हमेशा वायर सेटअप हॉरिजॉन्टल ही करे जिससे कंप्यूटर उपकरणों को एक जगह से दूसरी जगह पर सेटअप करने में परेशानी न हो। और जब कोई वायर लिंक प्रॉब्लम हो तो इसे आसानी से सॉल्व किया जा सके। 
  • जब कोई वीक लिंक प्रॉब्लम हो तो UTP, STP वायर के लिए Lan टेस्टर और Coaxial वायर के लिए Coaxial वायर टेस्टर से ही चेक करे। और समय की बचत करें। 
  • टूटे हुए वायर को जोड़ने के लिए हमेशा सोल्डरिंग की बजाय RJ 45 कन्वर्टर का उपयोग करे। (केवल UTP और STP वायर के लिए )  

इसे  भी पढ़े Proxy Server क्या है ? Free Proxy Server कैसे बनाये जानिए

हैलो दोस्तों, Weak Link क्या है ? Weak Link की समस्या को कैसे Troubleshoot कर सकते है, तो दोस्तों यह आर्टिकल आपको कैसा लगा, प्लीज Comment box में कमेंट करके जरूर बताये।

यदि  यह आर्टिकल आपको अच्छा लगा हो तो कृपया इस पोस्ट को Follow करे और like करे, और Share करे। फिर मिलेंगे दोस्तों ऐसा ही कोई नया आर्टिकल लेकर तब तक के लिए अलविदा।

1Shares
error: Content is protected !!
Ads Blocker Image Powered by Code Help Pro

Ads Blocker Detected!!!

We have detected that you are using extensions to block ads. Please support us by disabling these ads blocker.

Powered By
Best Wordpress Adblock Detecting Plugin | CHP Adblock