Pariyon ki kahani in hindi-सोना बाई रूपा बाई की कहानी !

Pariyon ki kahani in hindi ! यह कहानी बुन्देलखण्ड जिले की है।  किसी गांव में एक साहूकार रहता था। उसके दो संतान थी।  एक लड़का और एक लड़की। लड़की के सिर पर सोने और चांदी के बाल थे।  इसलिए उसका नाम सोना बाई  रूपा बाई रखा गया था। एक  दिन लड़की नदी नहाने गई।  उसके कुछ बाल टूट कर वही नदी किनारे गिर गए।  उसके जाने के बाद साहूकार का लड़का भी उसी जगह जा पहुंचा।  जब उसने वहां चांदी सोने के बाल देखे तो उन पर मोहित हो गया।

Pariyon ki kahani in hindi

 

You May Like – Akbar Birbal Top 10 Stories in Hindi – अकबर बीरबल की 10 मज़ेदार कहानियां !!!

Pariyon ki kahani in hindi | Pariyon ki kahani 2020 !

और उसने  प्रतिज्ञा की  कि वह ऐसी लड़की से शादी करेगा।  वह घर आया और बिना किसी से कुछ कहे एक अलग कमरे में चारपाई लेकर सो गया।  माता-पिता को जब पता चला तो उन्हें बहुत चिंता हुई।  उन्होंने बताया कि चांदी – सोने के बालों वाली लड़की तो तुम्हारी बहन है।  लड़के ने उसी हट  के साथ कहा ! कुछ भी हो मैं प्रतिज्ञा कर चुका हूं अन्यथा मैं जान दे दूंगा।  जब यह  बात उसकी बहन  सोना बाई  रूपा बाई को मालूम हुई तो वह एक चंदन के पेड़ पर जा बैठी।  और मां ने उसे मनाते हुए कहा !  उतरो उतरो  हमारी  सोना बाई बेटा रूप वाई  बेटा नीचे उतरो। (Pariyon ki kahani in hindi )

इस पर लड़की ने उत्तर दिया की पहले तो मैं आपको माताजी कहती थी अब सांस जी के रूप में कैसे संबोधित करूंगी।  हे मेरे चंदन के वृक्ष  तू बढ़कर ऊंचा उठ और मुझे आकाश में ले जा।  इसके बाद लड़की के पिता ने कहा ! उतरो उतरो हमारी सोना बाई बेटा रूप वाई  बेटा नीचे उतरो।

सोना बाई  रूपा बाई की कहानी !

लड़की ने फिर वही उत्तर दिया पहले तो मैं पिताजी कहती थी अब ससुर जी कहकर  कैसे संबोधित करूंगी।  हे मेरे चंदन के वृक्ष तू उठकर मुझे आकाश में ले जा ! ज्यो -ज्यो सोना बाई  रूपा बाई बात करती त्यों त्यों ही चंदन का वृक्ष उसे लेकर ऊंचा  बढ़ता जाता। अंत में वह  लड़का अपनी बहन को  मनाने आगे आया  और बोला  उतरो -उतरो  सोना बाई  बहन  रूपा बाई बहन नीचे उतरो।(Pariyon ki kahani in hindi )

फिर वही कहा पहले तो मैं भी  भाई जी कहती थी अब पति के रूप में कैसे संबोधित करूंगी।   हे  मेरे चंदन के वृक्ष तुम  ऊंचा  उठो  और मुझे आकाश में ले चलो ।  इतना कहते ही चंदन का बृक्ष एकदम बहुत ऊंचा हो गया और इसी समय एक विमान आया।  जिसमें बैठकर वह आकाश में  अदृश्य हो गई।  सोना बाई  के  माता पिता और भाई  सभी दुखी होकर रोते हुए घर लौट आए।

You May Like – Akbar Birbal Stories In Hindi | अकबर बीरबल की 20 रोचक कहानियां !!!

नमस्कार दोस्तों  “Pariyon ki kahani in hindi – सोना बाई  रूपा बाई की कहानी !! ” आपको अच्छी लगी  हो तो कृपया कमेंट और शेयर जरूर करें  –  इस  कहानी  को पढ़ने के लिए आपका बहुत -बहुत  धन्यबाद     !!! आपका दिन मंगलमय हो !!!

0Shares