Goolar Khaane Ke Phaayade – जानिए गूलर के औषधीय गुणों बारे में !

दोस्तों Goolar Khaane Ke Phaayade  हम आपको गूलर के औषधीय गुण की जानकारी से रूबरू कराएंगे दोस्तों गूलर का वृक्ष मध्यम आकार का होता है और पूरे भारत में हमें देखने को मिल जाता है दोस्तों गूलर का संस्कृत में नाम ओदम्बर है और वैज्ञानिक नाम फाइकस रेसमोसा होता है।गूलर की शाखाओं से फल उत्पन्न होते हैं गूलर के फल से सफेद दूध निकलता है।

Goolar Khaane Ke Phaayade
गूलर Goolar Khaane Ke Phaayade का फल गोल-गोल अंजीर की तरह होता है। दोस्तों गूलर के पत्ते लाभेरों के पत्ते की तरह होते हैं दोस्तों गूलर को एक पवित्र वृक्ष माना जाता है। इसकी लकड़ी का प्रयोग यज्ञ में भी किया जाता है दोस्तों गूलर की किसी भी शाखा को तोड़ने पर दूध निकलता है।

Goolar Khaane Ke Phaayade –  गूलर का प्रयोग करने से होने वाले फायदे !

 

  • दोस्तों Goolar Khaane Ke Phaayade  इसकी जड़ का काढ़ा बनाकर पीने से मधुमेह या डायबिटीज नियंत्रण में रहता है।

 

  • गूलर की छाल का काढ़ा बनाकर कुल्ला करने से दांतों से आने वाला खून बंद हो जाता है और दांत मजबूत बन जाते हैं और दांतो में होने वाला दर्द ठीक हो जाता है और मसूड़े की सूजन भी ठीक हो जाती है एवं मुंह के छाले भी ठीक हो जाते हैं।

 

  • गूलर का पका फल श्वेत प्रदर को ठीक करता है इसे ठीक करने के लिए गूलर के पके हुए फल को पानी के साथ सेवन करने से श्वेत प्रदर ठीक हो जाता है या इसके अलावा गूलर की छाल 5 से 10 ग्राम की मात्रा में या इसके पके हुए फल 2 से 4 ग्राम की मात्रा में लेकर सुबह-शाम मिश्री वाले दूध के साथ सेवन करने से रक्त प्रदर ठीक हो जाता है।

 

  • (Goolar Khaane Ke Phaayade ) दोस्तों गूलर के फलों की सब्जी बनाकर खाने से पेट के सारे कीड़े मर जाते हैं।

 

  •  गूलर बवासीर में भी बहुत फायदेमंद होता है दोस्तों बवासीर ठीक करने के लिए गूलर के पत्ते या इसके फलों का दूध 10 से 20 बूंद पानी के साथ मिलाकर नियमित समय से रोजाना पीने से खूनी बवासीर भी ठीक हो जाता है।

 

  •  गूलर के पके फलों का सेवन करने से पेचिश में फायदा हो जाता है।

 

          Benefits of sweet food | gooler ke fayde in hindi – गूलर खाने के फायदे !

 

  • (Goolar Khaane Ke Phaayade) दस्त लग जाने पर लगभग 10 ग्राम की मात्रा में गूलर के ताजे पत्तों को पीसकर 50 ग्राम पानी में मिलाकर पीने से दस्त में बहुत फायदा मिलता है।

 

  •  गूलर नपुसंकता मिटाता है और शरीर में मर्दांगी ताकत बढ़ा देता है दोस्तों एक छुहारे की गुठली निकाल कर छुहारे में गूलर के दूध की 25 बुँदे डालकर सुबह खाली पेट रोजाना खाएं दोस्तो ऐसा करने से शरीर में शुक्राणुओं की बढ़ोतरी हो जाती है तथा नपुसंकता मिट जाती है।

 

  • इसके अलावा दोस्तों गूलर के पके फलों को सुखाकर चूर्ण बना लें फिर समान मात्रा में घी और मिश्री मिला लें सब का मिश्रण बना लें दोस्तों इस मिश्रण को सुबह-शाम दूध के साथ पीने से कमजोरी खत्म हो जाती हैऔर मर्दानगी ताकत बढ़ जाती है और संतानोत्पत्ति में आने वाली बाधा दूर हो जाती है अगर इस मिश्रण का सेवन महिलाएं करती हैं तो सभी प्रकार के रोगों से मुक्त हो जाती हैं।

 

  • दोस्तों गूलर के फलों का शर्बत बनाकर पीने से खांसी, दमा और कब्ज जैसी समस्या दूर हो जाती है और कब्ज दूर हो जाती है।

 

  • जिनको उदर शूल ( पेट में दर्द ) की शिकायत हो तो गूलर के सूखे फल थोड़ी सी अजवाइन व् सेंधा नमक को मिलाकर इनका पाउडर बना लें इस पाउडर को सुबह-शाम सेवन करने से उदर शूल में बहुत आराम मिलता है।

 

                   You May Like – लीची खाने के अदभुत फायदे, जानकर हो जाएंगे हैरान ?

1Shares

One thought on “Goolar Khaane Ke Phaayade – जानिए गूलर के औषधीय गुणों बारे में !

Comments are closed.