Best Rakshabandhan Gift – आज तक का सबसे अच्छा रक्षाबंधन उपहार।

Best Rakshabandhan Gift -आज तक का सबसे अच्छा रक्षाबंधन उपहार। जरूर पढ़ें। 

(1)   प्राचीन कथा – Short Story on Raksha bandhan

हैलो दोस्तो कैसे है आप, (Best Rakshabandhan Gift-रक्षाबंधन उपहार ) आज हम अपने धर्म ग्रंथो से जुड़ी एक प्राचीन कथा जो भाई – बहन के प्यार को दर्शाती है , और साथ ही  रक्षाबंधन के महत्व को प्रदर्शित करती है। जिसको मै आपके साथ शेयर करने ने  जा  रहा हू ,  तो बात उस समय की है जब राजा बली अश्वमेघ यज्ञ करा रहे  थे। तो देवताओ को बड़ी चिंता हुईं और सब देवता गण  एकत्र होकर  अपने गुरु बृहसपति  के पास गये। और राजा वली के अश्वमेघ  यज्ञ के बारे में बताया।  तब देवताओ  के गुरू बृहसपति ने देवताओ को भगवान विष्णु के पास सहायता माँगने के लिए भेज दिया। 

rakshabandhan gift hindi kahani
जब सारे देवता भगवान विष्णु के पास जाते है  और  देवताओं ने  अपनी चिंता का कारण बताया तो भगवान विष्णु बावन रूप अवतार धारण करके राजा बाली के पास गए और उन्होने राजा बली से साड़े तीन पग भूमि मांगी। जब राजा बलि साड़े तीन पग भूमि देने के लिए तैयार हो गया। तब भगवान वामन ने तीन पग  में ही  पूरी पृथ्वी  नाप ली। और  राजा बलि ने भगवान का आधा  पग रखने के लिए अपना सिर दे दिया। तब भगवान ने प्रशन्न  होकर उसे वरदान दिया। तब वरदान में राजा बली ने भगवान को अपना चौकीदार बना लिया। इधर माँ लक्ष्मी जी ने जब ये समाचार  नारद मुनि के द्वारा सुना तो, वो अपने पती को वापस लेने  के लिए रक्षाबंधन के त्योंहार पर राखी लेके राजा बाली को बांधने गई। (Best Rakshabandhan Gift)
 
तब राजा बली को माँ लक्ष्मी ने राखी बाँधी  तो राजा बली ने माँ को अपनी बहन स्वीकार किया और उन्हे ये बचन दिया की वो जो मांगेगी मै उन्हे दूगा ,तब माँ लक्ष्मी ने उन चौकीदार बने भगवान विष्णु को ही मांग लिया। जिसकी राजा बली ने कभी कल्पना नहीं  की थी, लेकिन राजा बली वचन वद्ध थे। तो उन्हे भगवान विष्णु को आजाद करना पड़ा। मेरा विचार यह है की ये रक्षाबंधन वो बंधन है जो संसार  के पिता को भी बंधन मुफ्त कर सकता है तो हम तो  केवल एक इंसान  मात्र है।  (Best Rakshabandhan Gift)

 

(2)  भाई बहन का पवित्र प्यार | रक्षाबंधन का  उपहार !



सुबह बहन जल्दी उठती है और घर के सारे कामों को खत्म कर अपने भैया को जगाती है

बहन –  भैया उठो ना,जल्दी से उठो ना,  आज  आज रक्षाबन्धन  है ।

 आप जल्दी से तैयार हो जाओ, मै सबसे पहले आपको राखी बांधुगी ।

भाई – ठीक है ।


भाई तैयार हो जाता है और बहन पूजा की थाली, मिठाई और राखी लेकर आती है 

 

बहन –  भैया अपना दाहिना हाथ आगे बढाओ ।

भाई अपना हाथ आगे करके राखी बंधवा लेता है और जेब से निकालकर उसको एक खूबसूरत घड़ी देता है ।

 ( जो उसने बहन के लिए एक दिन पहले ही खरीदी थी )


 लेकिन बहन मना कर देती है फिर भाई अपने पर्स से कुछ पैसे निकाल कर देता है लेकिन बहन फिर वापस कर देती है


तब भाई पुछता है कि बताओ तुम्हे क्या चाहिए ?


बहन –  जो मागुंगी वो दोगे ?


भाई – हां दुंगा ।


बहन – पहले मुझसे वादा करो ?


भाई – हां मैं पक्का वादा करता हूँ कि जो तू मांगेंगी वो मैं दुंगा ।


अब बोल तुझे क्या चाहिए ?


बहन –  भैया आज रक्षाबन्धन के दिन आप मुझसे ये वादा करो कि आप आज से  मां की बहन की गालियां नहीं दोगे । इतना कहकर उसकी आंखों में आसूं आ जाते हैं ।

You May Like – best Prernadayak kahaniya in Hindi – 7 प्रेरणादायक हिंदी कहानियां !

Rakshabandhan gift story in hindi !

(बहन रोते हुए )  भैया हम लोगों ने आप लोगों का क्या बिगाड़ रखा है जो हमेशा मां की बहन की गालियां देते हो हमें सरेआम बदनाम करते हो । 


बोलो   भैया   बोलो


भाई –  ( सिर नीचे किये हुए चुप है)


बहन – आज रक्षाबंधन पर आप मुझसे वादा करते हो कि नहीं ?


भाई –  ( आत्मग्लानि से रोते हुए )  हां बहन मैं आज तुमसे ये वादा करता हूं कि मैं जीवन में  कभी मां की बहन की गाली नहीं दुंगा और ना ही किसी को देने दुंगा ।

फिर अपने आप को सम्हाल कर बहन को भी चुप कराता है ।
और कहता है कि……

मिठाई देखकर मुंह में पानी आ रहा है

 चल अब जल्दी से मिठाई खिला…….

बहन थोड़ा हंसने लगती है  उसकी आंखों में अभी भी आंसू थे लेकिन ये आंसू खुशी के थे,  भाई पर आत्मविश्वास के थे ।


मै चाहता हूँ कि हर लड़की रक्षाबन्धन पर अपने भाई से यही मांगे ।


You May Like – मनुष्य  को  आत्माएं क्यों दिखाई नहीं देती – जाने इसकी वजह।

 मेरा आप लोगों से निवेदन है कि इस बार इस कहानी को इतना शेयर करें कि  ये कहानी हर भाई – बहन के मोबाइल में हो। 

0Shares