Benefits of Shisham leaves – शीशम के पत्ते के फायदे !

दोस्तों Benefits of Shisham leaves वैसे तो शीशम की लकड़ी का आमतौर से प्रयोग फर्नीचर बनाने में किया जाता है लेकिन शीशम के पत्तों का उपयोग आयुर्वेद के अनुसार औषधि के रूप में किया जाता है, आयुर्वेद के वैज्ञानिकों द्वारा शीशम के पत्तों का औषधि के रूप में प्रयोग करने पर अद्भुत चमत्कार देखने को मिला है।

 

शीशम के पत्ते, शीशम की छाल, शीशम का तेल के इस्तेमाल करने से अनेक प्रकार की बीमारियां दूर हो जाती है। शीशम के पत्ते को सर्दी जुकाम से लेकर कैंसर जैसे भयानक रोगों में भी बहुत लाभदायक एंव रामबाण माना जाता है।  (Benefits of Shisham leaves)

 

Benefits of Shisham leaves - शीशम के पत्ते के फायदे

 

Benefits of Shisham leaves | sheesham leaves benefits in cancer hindi

 

दोस्तों आयुर्वेद चिकित्सा पद्धति द्वारा शीशम के पत्तों  एंव छाल  का उपयोग औषधियों को बनाने में प्राचीन काल से हो रहा है। शीशम के पेड़ के पत्तों, छाल, एंव शीशम के तेल से अनेको बीमारियों को जड़ से ख़त्म किया जा सकता है।  शीशम का तेल अमेज़न से ऑनलाइन भी खरीद सकते है। <<<Buy Shisham Oil>>>

 

आयुर्वेद की औषधियां अंग्रेजी दवाओं की अपेक्षा किसी भी बीमारी को जड़ से ख़त्म करने में सक्षम होती है। अतः शीशम के पेड़ के पत्तों, छाल, एंव शीशम के तेल से निम्न्लिखित  बीमारीओं का इलाज किया  जा सकता हैं।

 

  • सर्दी व् जुकाम को ठीक करने में
  • कैंसर के  इलाज में
  • मुँह के अल्सर (छालों) में
  • पेट एंव  पाचन सम्बंधी विकारों  में
  • शरीर के किसी भी हिस्से में जलने पर
  • बुखार में
  • खून की कमी होने (एनीमिया) में
  • मूत्र रोग एंव मूत्र सम्बधी विकारों में
  • मासिक धर्म की रूकावट में
  • ल्यूकोरिया की शिकायत होने में
  • शरीर की सूजन एंव हड्डी जोड़ने में
  • कुष्ठ रोग में एंव चर्म रोग में
  • एसिडिटी एंव गैस रोग में
  • रक्त सम्बधी विकार में
  • आमाशय के छालों  में
  • दांत में कीड़ा के इलाज में
  • स्तनों की सूजन में
  • घाव को ठीक करने  में
  • सेक्स क्षमता बढ़ाने में
  • धातु संबधी रोगों  में

 

सर्दी -जुकाम को ठीक करने में शीशम (Rosewood leaves to cure cold)

शीशम के पत्तों का प्रयोग हम सर्दी जुकाम में करते हैं।  सर्दी जुकाम में शीशम के 8 या 10 पत्तों को एक गिलास पानी में उबालकर आधा पकाएं जब पानी आधा रह जाए, तो इसको छानकर जूस निकालकर उसका सेवन करें। इसका सेवन करने से सर्दी जुकाम में बहुत फायदा होता है।

 

Sheesham leaves for cancer treatment in hindi

 

कैंसर के इलाज में (sheesham  leaves to cure cancer)

शीशम को एंटी कैंसर भी माना जाता है।  यह कैंसर के इलाज में एवं बचाव में दोनों में लाभदायक है।  कैंसर के मरीजों को शीशम के दो से चार हरे, ताजा एवं कोमल पत्ते को चबाने की सलाह दी जाती है। इससे कैंसर के मरीज के अंदर काफी बदलाव होता है।

 

मुँह के छालों  के इलाज में (In the treatment of mouth ulcers)

तो शीशम के पत्तों का रस 15 दिन तक इस्तेमाल करो अगर दोस्तों मुंह के अंदर छाले हो जाएं तो इसकी पत्तियों को चबाने के बाद थूक  देने से छाले ठीक हो जाते हैं। Benefits of Shisham leaves

 

पेट एंव पाचन सम्बंधी  विकारों  में (To treat stomach and digestive disorders)

दोस्तो जिनका लीवर कमजोर है पाचन में गड़बड़ी है, उन्हें शीशम की दो तीन पत्ती रोज सुबह उठकर खाली पेट चबाना चाहिए इससे पाचन शक्ति से संबंधित लीवर से संबंधित जो समस्या है उससे छुटकारा मिल जाता है। (Benefits of Shisham leaves)

 

Benefits of Shisham leaves | treatment of fever

 

शरीर के किसी भी  हिस्से में जलने पर (Irritation in any part of the body)

शरीर के किसी भी हिस्से में जलने या जलन होने पर शीशम का तेल सुबह – शाम लगाने से जलन शांत होती है। शीशम के तेल की ठंडी तासीर होने के कारण यह जलन को शांत करता है एंव जलने वाला भाग जल्दी से ठीक भी होता है।

 

बुखार के इलाज में (In the treatment of fever)

शीशम के ३० ग्राम सार  को २०० मिलीग्राम दूध में पकाएं। दूध जब गाढ़ा हो जाये तो इसे 10-10 ml सुबह, दोपहर, शाम तीन बार पिलाने से बुखार में आराम मिलता है।

 

treatment of fever

 

शीशम के पत्ते के फायदे | Sheesham leaves benefits in hindi

 

खून की कमी एंव एनीमिया का इलाज (Treatment of anemia and anemia)

शीशम के पत्तों का 10 –  15 ml जूस रोज सुबह – शाम लेने से शरीर में खून की कमी दूर होती है। शीशम का जूस  लेने पर  पहले दिन से ही चमत्कारी लाभ मिलता है। जिन लोंगो का हीमोग्लोबिन कम रहता है  उन लोगों  को यह  जूस  ज़रुर  पीना चाहिए। इसको लेने से १० दिन के अन्दर  हीमोग्लोबिन  पूरा होता है  एंव एनीमिया से भी छुटकारा मिलता है। शीशम जूस आप अमेज़ॉन  से ऑनलाइन भी खरीद सकते है।

 

   Buy On Amazon

 

मूत्र रोग एंव मूत्र सम्बंधी विकार में (In urinary diseases and urinary disorders)

शीशम के औषधीय गुणों के कारण शीशम के पत्तों  का 20 – 30 Ml  जूस का काढ़ा दिन में तीन बार लेने से मूत्र संबन्धी सभी विकार दूर होते  है। एंव रुका हुआ पेशाब खुलकर आता  है। Benefits of Shisham leaves

 

मासिक धर्म की रूकावट में (Menstrual blockage) | Benefits of Shisham leaves

१० से १५ मिलीग्राम शीशम के सार का चूर्ण सुबह – शाम लेने से मासिक धर्म की रूकावट ख़त्म होती है।  एंव १५ से २० मिलीग्राम शीशम के पत्तों  का काढ़ा दिन में दो बार लेने से मासिक धर्म के दौरान होने वाले दर्द से छुटकारा मिलता है।

 

लिकोरिया की शिकायत होने पर (On the complaint of licorice)

शीशम के पत्तो की तासीर ठण्डी होने के कारण इससे लिकोरिया में आराम मिलता है। शीशम के १० से १५ पत्तों  को २० ग्राम मिश्री में मिलाकर मिक्सी से अच्छी तरह पीस ले। जब जूस की तरह दिखने लगे तब इसका  सुबह खाली  पेट सेवन करें। एक हफ्ते तक सेवन करने से लिकोरिया में १०० %  सत प्रतिशत  छुटकारा मिलता है।

 

शरीर की सूजन एंव हड्डी जोड़ने में (Body swelling and bone)

दोस्तों इसके अलावा जिसकी हड्डी फैक्चर हो जाती है जिन हड्डियों को दोबारा जोड़ने में बड़ी दिक्कत आती है।  उसमें शीशम के पत्तों का लेप काफी अच्छा माना जाता है। यह लेप हड्डी जोड़ने में अहम भूमिका निभाता है। (Benefits of Shisham leaves)

 

Sheesham leaves benefits in hindi | Body swelling and bone

 

You May Like – Jonk tel ke fayde – जोंक के तेल के फायदे ,जानकर हैरान हो जायेंगे आप ?

Sheesham ke patte khane se fayde

 

कुष्ठ रोगों  के इलाज में (In the treatment of leprosy)

शीशम के पत्ते का प्रयोग कुष्ठ रोग में भी किया जाता है। शीशम के कोमल पत्तों को पीसकर पानी में डालें फिर नहाए तो इससे खाज खुजली में बहुत फायदा मिलता है दोस्तों आपने सुना होगा कि किसी के चोट लग जाए और वहां पर शीशम के पत्ते पीसकर लगा दे तो घाव बहुत जल्दी भर जाता है।<<<Buy Shisham Powder>>>

 

एसिडिटी एंव गैस के  इलाज  में (In the treatment of acidity and gas)

शीशम के पत्तों के रस से एसिडिटी एंव गैस जड़ से ख़त्म होती है, तथा पेट में हमेशा गर्मी रहती हो, हाथ पैर में हमेशा जलन रहती हो , आदि रोगों को शीशम के पत्तों  का रस पूरी तरह से ठीक करता  है।

 

रक्त सम्बन्धी विकारों  में  (In blood disorders)

शीशम के छाल  को छाया में सुखाकर चूर्ण बनाकर किसी डिब्बे में रख ले। प्रतिदिन १० – २० मिलीग्राम चूर्ण एंव १०० मिलीग्राम पानी में उबालकर काढ़ा बनाकर पिने से रक्त संबंधी विकार ख़त्म होते है। Benefits of Shisham leaves

 

आमाशय के छालों  में (Stomach ulcers)

१५ दिन तक प्रतिदिन शीशम के हरे, कोमल पत्तों  को सुबह खाली पेट चबाने से आमाशय  के छाले  जड़ से ख़त्म हो जाते है।

 

दांत में कीड़ा के इलाज में (In the treatment of tooth worms)

दोस्तों अगर आप के दांत में कीड़ा हो लग गया है। दांत लाल पीले हो गए हैं तो शीशम के पेड़ की छाल से अपने दांत साफ कर सकते हैं। इससे आपके दांत में कीड़ा नहीं रहेगा और पीलापन भी दूर हो जाएगा।

 

treatment of tooth worms

 

Sesame leaf Uses | Sesame leaves for Cancer  

 

स्तनों की सूजन में (Swelling of breasts)

एक सप्ताह तक शीशम के १० से १५ पतों का काढ़ा सुबह – शाम पीने एंव स्तनों पर पतों का लेप एंव हल्दी मिलाकर रखने से स्तनों की सूजन ठीक हो जाती जाती है।

 

घाव को ठीक करने में (Wound healing)

शीशम के पतों को पीसकर लेप बनाकर शरीर के किसी भी तरह के घाव पर लगाने से घाव शीघ्र भरता है। घाव के आसपास की सूजन व् खुजली से भी राहत मिलती है। Benefits of Shisham leaves

 

sesame leaf uses | Wound healing

 

सेक्स क्षमता बढ़ाने  में (To Increase Sex Stamina)

दोस्तों अगर आप 4 गुना सेक्स  क्षमता बढ़ाना चाहते हैं तो सुबह उठकर खाली पेट 8 से 10 पत्ते चबाएं पर पत्ते चबाते वक्त इतना ध्यान रखें कि जो पत्ते आप चवा रहे हो वह बिल्कुल ताजा होने चाहिए लगभग 7 दिनों तक प्रयोग करने के बाद आप की सेक्स क्षमता काफी हद तक सुधर जाएगी  (Benefits of Shisham leaves)

 

धातु संबन्धी रोगों  में (In the treatment of metal diseases)

 

दोस्तों शीशम के पत्तों से हमें धातु रोग से मुक्ति मिल सकती है। सुबह उठकर 10 या 15  पत्ते आपको खाली पेट लेना है फिर इसको मुंह में चबाकर मिक्स करना है।  यह पूरी तरह मिक्स हो जाए तो आप आप पत्तों कोअंदर पेट में ले जा  सकते हैं।

ऐसा आप प्रतिदिन करते हैं, तो 7 दिनों में इसका फायदा नजर आएगा और आप धातु रोग से हमेशा के लिए छुटकारा पाएंगे। (Benefits of Shisham leaves) 

Note – शीशम के पत्तों का तैयार किया हुआ पाउडर बाजार में सभी आयुर्वेदिक मेडिकल स्टोर पर उपलब्ध रहता है। यदि आप चाहो तो इसे अमेज़न से ऑनलाइन भी ख़रीद सकते है।

 

  Buy On Amazon 

 

You May Like – तरबूज खाने के अदभुत फायदे – जिन्हे जानकर चौंक जायेंगे आप।

 

तो दोस्तों यह आर्टिकल  Benefits of Shisham leaves – शीशम  के  पत्ते  के  फायदे “आपको कैसा लगा, कृपया कमेंट बॉक्स में कमेंट  करके बताये। यदि यह आर्टिकल आपको हेल्प फुल लगा हो तो प्लीज इसे  शेयर और लाइक  करना न भूले।  धन्यबाद !

तो फिर मिलेंगे दोस्तों कोई नया  Health and  Beauty  से संबन्धित आर्टिकल  लेकर तब तक के लिए अलविदा। 

1Shares