Benefits of chirchita – चिरचिटा के जादुई फायदे और उपयोग !

चिरचिटा Benefits of chirchita हमारे शरीर के लिए एक जादुई औषधि है  ,यह देखकर आप  हैरान हो जाएंगे। दोस्तों आज हम आपको ऐसी औषधि के बारे में बताने जा रहे हैं जो  आपने देखी तो होगी लेकिन आप उस से होने वाले लाभ से से परिचित नहीं होंगे ।

यह ऐसी औषधि है जो पूरे भारत में पाई जाती है लेकिन इसे लोग अलग अलग नाम से जानते हैं कहीं पर इसे चिरचिटा कहते हैं तो कहीं पर अपामार्ग, ओंगा, मरकटी नाम से जानते हैं इसके फूल हरे और गुलाबी कलियां युक्त होते हैं। यह एक साधारण पौधा होता है। जो आसानी से अपने घरो के आस – पास या बंजर खेतों एंव झाड़ो में मिल जाता है।

 

Benefits of chirchita

 

 

और इसके बीजों का आकार चावल की तरह होता है Benefits of chirchita दोस्तों चिरचिटा का पौधा 1 से 3 फुट ऊंचा होता है एवं शाखाएं पतली पत्ते अंडाकार होते हैं और इसके फूल पत्तों के बीच से निकलते हैं। दोस्तों चिरचिटा औषधि महिलाओं के लिए तो वरदान साबित हुई है। तो आज हम आपको चिरचिटा के गुणों एंव  उपयोग से परिचय कराते है।

You May Like – Home remedies for teeth whitening -दांत के कीड़े निकालने के घरेलू उपाय !

 Benefits of Chirchita | Chirchita ke fayde in hindi !

 

1 –  अगर हमें बुखार आ जाए तो चिरचिटा का रस निकालकर शहद के साथ मिलाकर खाएं तो हमारा बुखार ठीक हो जाता है। ( Benefits of chirchita)

2 – दोस्तों अगर किसी को रतौंधी की समस्या है तो चिरचिटा को सुखाकर उसका चूर्ण बनाकर 6 ग्राम रात में सोने से पहले  लगातार तीन दिन जल के साथ पी ले तो रतौंधी से छुटकारा मिल जाएगा।

3-  अगर आपको पेट फूलने की समस्या है तो चिरचिटा का चूर्ण एवं कुटकी चूर्ण दोनों को मिलाकर सेवन करने से पेट फूलने की समस्या दूर हो जाती है।

4-   स्त्रियों की सबसे बड़ी समस्या होती है कि गर्भधारण न करना दोस्तों चिरचिटा का दूध के साथ सेवन करने से स्त्रियों की गर्भधारण करने की संभावना बढ़ जाती है।

5-  दोस्तों अगर आपको शीघ्रपतन की समस्या है तो चिरचिटा चूर्ण 10 ग्राम जल में पीसकर छानकर 3 ग्राम शहद और 250 ग्राम दूध के साथ पीने से यह रोग पूरी तरह समाप्त हो जाता है।

Chirchita ka paudha ke fayde | चिरचिटा के जादुई फायदे और उपयोग

 

6-  अगर आप अपने शरीर में कमजोरी महसूस करते हो तो चिरचिटा के बीजों की खीर -बनाकर खाएं आपके शरीर को ताकत मिलेगी और आपके शरीर में ऊर्जा बनी रहेगी। (Benefits of chirchita)

7-  सांस की बीमारी में चिरचिटा चूर्ण काली मिर्च को शहद के साथ मिलाकर चाटने से सांस की बीमारी दूर हो जाती है।

8-  अगर आपके दांत पीले हैं या पायरिया या किसी प्रकार की दांतो से संबंधित समस्या है तो चिरचिटा के पेड़ की जड़ निकाल कर उससे कुल्ला करने पर यह सभी समस्याएं दूर हो जाती हैं।

9- दोस्तों चिरचिटा को पीसकर स्तनों पर लेप करने से दूध अधिक निकलता है।

10-  अगर किसी को खुजली हो जाती है तो चिरचिटा का काढ़ा बनाकर उसे एक बाल्टी पानी में मिलाकर उससे नहा लें तो खुजली ठीक हो जाएगी।

11- दोस्तों सिर दर्द होने पर चिरचिटा को पानी में घिसकर लेप करने से सिर दर्द ठीक हो जाता है।

You May Like – तरबूज खाने के अदभुत फायदे – जिन्हे जानकर चौंक जायेंगे आप।

1Shares