रात में लाश को अकेला क्यों नहीं छोड़ा जाता है ! जाने राज !!!

रात में लाश को अकेला क्यों नहीं छोड़ा जाता है ! दोस्तों आप सभी को यह बात तो अच्छे से पता होगी कि मरने के बाद जो काम किया जाता है उसे अंतिम संस्कार कहते हैं और अगर आपने ध्यान दिया होगा तो आपको पता होगा कि अगर कोई व्यक्ति शाम को मर जाए तो उसका अंतिम संस्कार रात में नहीं करते हैं दूसरे दिन करते हैं।

रात में लाश को अकेला क्यों नहीं छोड़ा जाता है

रात में लाश को अकेला क्यों नहीं छोड़ा जाता है ! | Why the corpse is not released at night ?

दोस्तों क्या आपने कभी सोचा है कि ऐसा क्यों किया जाता है तो आज हम आपको बताते हैं कि जब किसी व्यक्ति की मृत्यु रात के समय होती है तो उसे रात में श्मशान घाट नहीं ले जाया जाता है । ऐसे में उस लाश को श्मशान घाट ले जाने की बजाय पूरी रात उसे घर पर ही रख कर उसकी रखवाली करनी होती है।

You May Like – Akbar Birbal Stories In Hindi | अकबर बीरबल की 20 रोचक कहानियां !!!

ऐसी बात सुनकर अजीब सा तो लगता है लेकिन जो हम आपको बताने जा रहे हैं उसे सुनकर आपको आश्चर्य होगा दरअसल आपको बता दें कि शास्त्रों के अनुसार यदि किसी व्यक्ति की दिन ढलने के बाद मृत्यु होती है तो उस मरे हुए शरीर के पास तुलसी के पत्ते रखे जाते हैं और उसे अकेला नहीं छोड़ा जाता है। (रात में लाश को अकेला क्यों नहीं छोड़ा जाता है !)

Raat mein lash ko akela kyon nahin chhoda jaata hai !

दोस्तों ऐसा इसलिए करते हैं कि उस मरे हुए व्यक्ति की आत्मा वहीं कहीं भटक रही होती हैं और आप सभी को देखती रहती हैं कुछ विद्वानों का कहना है कि मरने के बाद शरीर खाली हो जाता है ऐसे में कोई बुरी आत्मा का साया उस शरीर पर अपना अधिकार जमा लेता है इसलिए उस मरे हुए शरीर के पास रात को कोई न कोई जरूर रहता है।

दोस्तों हमारी जानकारी कैसी लगी अगर अच्छी लगी हो तो लाइक एवं शेयर जरूर करें।

You May Like – Akbar Birbal Top 10 Stories in Hindi – अकबर बीरबल की 10 मज़ेदार कहानियां !!!

नमस्कार दोस्तों  “रात में लाश को अकेला क्यों नहीं छोड़ा जाता है ! जाने राज !!!” यह धार्मिक आर्टिकल  आपको अच्छा  लगा   हो तो कृपया कमेंट और शेयर जरूर करें  –  इस  आर्टिकल को पढ़ने के लिए आपका बहुत -बहुत  धन्यबाद   !!!  आपका दिन मंगलमय हो !!!

0Shares